Friday, March 18, 2011

सोनिया सरकार साध्वी प्रज्ञा को मरवा डालना चाहती है

Represent: Dr. Santos Rai


मालेगांव बम विस्फोट में आरोपी के शक में गिरफ्तार साध्वी प्रज्ञा बुरी तरह बीमार है. चालीस वर्षीय साध्वी की हालत इतनी खराब है कि उसके लिए दस कदम चल पाना भी मुश्किल हो गया है. साध्वी प्रज्ञा इस वक्त महाराष्ट्र पुलिस की हिरासत में है और उसका मुंबई के जेजे अस्पताल में इलाज चल रहा है.
साध्वी प्रज्ञा की बीमारी का खुलासा उस वक्त हुआ जब मध्य प्रदेश पुलिस ने सुनील जोशी हत्याकाण्ड में साध्वी के रिमांड की मांग की क्योंकि 9 मार्च को मध्य प्रदेश पुलिस साध्वी प्रज्ञा को देवास की स्थानीय अदालत में पेश करना चाहती है. सुनील जोशी हत्याकाण्ड में मध्य प्रदेश पुलिस साध्वी से मुंबई में दो बार पूछताछ कर चुकी है. इस पर मकोका अदालत ने जेजे अस्पताल को पूछा कि क्या साध्वी प्रज्ञा की हालत ऐसी है कि वे मुंबई से मध्य प्रदेश की अठारह घण्टे की यात्रा कर सकती हैं. मकोका अदालत ने जेजे अस्पताल को आदेश दिया है कि साध्वी प्रज्ञा के स्वास्थ्य के बारे में विस्तृत रिपोर्ट वह 7 मार्च को कोर्ट के सामने पेश करे.
लेकिन साध्वी प्रज्ञा से जुड़े सूत्रों का कहना है कि साध्वी की हालत बेहद खराब है. वह चार कदम चल भी नहीं सकती और बैठने के लिए भी उसे सहारे की जरूरत होती है. साध्वी के लिए दस कदम चलना भी मुश्किल हो गया है. अखबार लिखता है कि पुिलस की लगातार प्रताड़ना के चलते उसके दोनों पैर बेकार हो चुके हैं. बिना सहारे के उसके लिए चार कदम चलना भी मुश्किल हो गया है. इसके साथ ही साध्वी को और कई तरह की बीमारियां है जिसका इलाज जेजे अस्पताल में चल रहा है. अब मकोका अदालत ने जेजे अस्तपाल को कहा है कि सात मार्च तक वह साध्वी प्रज्ञा के स्वास्थ्य के बारे में विस्तृत रिपोर्ट अदालत को प्रस्तुत करे ताकि साध्वी प्रज्ञा के मध्य प्रदेश जाने पर अदालत निर्णय ले सके.

13 comments:

ajeet said...

है भगवान् साध्वी प्रज्ञा की यह हालत देखकर मेरा मन ग्लानी से भर उठा है, सभी हिन्दू भाइयों से कर बद्ध प्रार्थना है की हम इसका विरोध करे , पर इसके लिए तोगडिया या किसी उग्र लेकिन दिल से कट्टर हिन्दू नेता के नेतृत्व की आवश्यकता है अगर ऐसा हो सकता हो तो मेरी कोई भी भूमिका हो मैं उसे निभाने के लिए तय्यार हूँ, दुःख तो इस साध्वी को देख कर बहुत हो रहा हा पर उससे ज्यादा इस बात पर की कसाब पर भारत सरकार अब तक 92 करोड़ रुपया खर्च कर चुकी है और उसके लिए सारे शाही इंतजाम किये गए हैं जो अब तक जारी है,

sonu said...

ham sab to ek sath hokar inki raksha karni chahi ye varna bhagvan hamko kabhi maaf nahi karega

Jugal Kishore Somani said...

प्रभु साध्वी प्रज्ञा जी की रक्षा करें. लेकिन यह बात गौर से मस्तिक पर जोर देकर समझनी होगी कि हमारी वर्तमान सरकारें नीति और नियत में गिरी हुई शाबित हो रही है , नैतिकता का पतन अधिकता की हद से भी अधिक हो चुका है . एक वह चुटकला , जिससे शर्म के मारे होते हुए भी हंसी आती थी , लगता है , हमारी तक़दीर की नियत बन गया है. चुटकले में कहा गया था कि एक नास्तिक विदेशी भारत में सिर्फ एक महीने रह कर अपने देश में जाते ही आस्तिक बन गया , दोस्तों के अचरज भरे प्रश्न के उत्तर में उसने कहा कि जब भारत देश को बिना किसी बुद्धिमान सरकार के भगवान चला रहा है तो निश्चित ही 'गोड' होता ही है . यह है आज का सच ,एकदम कड़वा सच !
प्रज्ञा जी जैसी हमारी इस साधुत्व की पराकाष्टा की रक्षा हमें ही करनी होगी . ये कोई कसाब या अफ़ज़ल तो है नहीं कि ........
सावधान हमें ही रहना पडेगा................
जुगल किशोर सोमाणी , जयपुर

Manu Tripathi said...

yes it is a very serious issue.

bhavik maniar said...

क्या भारत मे हिन्दू होना गुनाह हे ?
माता प्रज्ञाजी जल्द ही इस कांग्रेसी चक्रव्यू से बहार निकले ऐसी मे प्रभु से प्राथना करता हु.....

bhavik maniar said...

इन सभी प्रश्नोका उपाय हमारे शिवाजी महराज ने बतायाथा के हिन्दू स्वराज्य की स्थापना. आज क्रिषचन,मुस्लिम आदि सभी धर्मोके लोगो के पास अपने अपने देश हे केवल हमारे पास ही अपना देश नहीं हे अगर हम हिन्दू स्वराज्य की स्थापना न करसके तो हमे और हमारी आनेवाली सभी पीढ़ीओको माँ प्रज्ञाजी जेसा सभी के साथ होना निषचीत हे....

Anonymous said...

you are right.bhavik maniar .even anyone is terrorist or killer but he/she is hindu then he/she is right and we must support them and if anyone is innocent and is a muslim we must send them to hell.tabhi ram rajya hoga. sahi kaha na ?

Anonymous said...

kahan hain ab wo saare ?human rights wale

prachi said...

mana ki congress ki sarkar sabse jyada barbad hai ...aur kisi ko bhi dubara vote dene ka sochna bh nahi chahiye ....per sadhvi aapni karni ka fal bhugat rahi hai ...congress ki maar to baad ki hai ...pahle to eshwar...bhagawan khud hi us ko uske kiye ki saza de rahe hain ....aapne desh main bhagawan ke naam per kya kya nahi hota ....per shayad ab bhagawan jaag gaye hain...congress to barbad hai hi kyon ki woo desh ko barbad kar rahi hai ...per sadhvi ne bhagwan ke naam per jo kiya woo bhi galat hai aur rahega

Anonymous said...

प्राची आप बहार हो आप खुशनसीब हो अन्यथा साध्वी की जगह आप भी हो सकती थी । इस देश मे महिला आयोग व मानवधिकार आयोग केवल आर्म फोर्सों जो काशमीर मे काम कर रही है इनके लिये ही है ।

mahendra joshi said...

prachi sab apne karni ki saja bhogta hai kasab or afjal guru ko kiyo saja nahi ho rahi hai sarkar kiyo uske khane or uski har bat puri karne ke liye majbur kiyo hai,hindusthan hi ak asha desh hai jaha apne logo se dusro ko socha jata hai.rahi sadvi ki to koi bhi apno logo par atyachar dekar asa karne ke liye khad ho jata hai,ager ap ke pariwar ko koi nukshan pahuchata hai to ap usko maf kar dege ?

rajesh samani said...

kya kalyug me bhagwan ne dharti ki taraf dekhna bhi band kar diya he?

Moksh said...

yah is desh ki vidambana hai ki sadvi pragya ji jo is desh ki beti hai unhe bina apradh sabit kiye bina kast aur yatnaye di ja rahi hai.

Aur jin apradhio ka aprath sabit ho chuka hai "Afzal Guru & Azmal kasab" un ki khatirdari ki ja rahi hai. Ye sampurna rastra ke liye sarm aur ninda yogya hai jo in jaise sarkaro ko samarthan de rahi hai.